Holi bhai dooj 2022 : होली की दूज कब है 2022? होली की दूज क्या तारीख की है?

Like Share Comment

Holi Bhai Dooj 2022 : होली भाई दूज 2022: भाई की लंबी उम्र के लिए करें भाई दूज पर तिलक, जानिए महत्व

भाई दूज का त्यौहार साल में दो बार मनाया जाता है। होली के बाद भाई दूज को होली भाई दूज कहा जाता है। यहां जानिए किस दिन मनाई जाएगी होली भाई दूज। इसका महत्व और तिलक विधि से संबंधित सभी जानकारी

चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि को भाई दूज का पर्व मनाया जाता है। भाई दूज साल में दो बार आता है, एक होली के बाद और दूसरा दीपावली के बाद। होली के दो दिन बाद मनाया जाने वाला यह भाई दूज होली भाई दूज के नाम से जाना जाता है। होली भाई दूज पर भी बहनें अपने भाई को सभी संकटों से बचाने और उसकी लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और तिलक के बाद व्रत तोड़ती हैं। यह दिन भाई-बहन के बीच प्रेम को बढ़ाने और उनके रिश्ते को मजबूत करने का दिन है। इस बार होली भाई दूज का पर्व 20 मार्च रविवार को मनाया जाएगा।

See also  How to increase internet speed | इंटरनेट स्पीड कैसे बढ़ाएं, पूरी जानकारी 2020

शुभ मुहूर्त

चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि 19 मार्च शनिवार को रात 11 बजकर 37 मिनट से शुरू होकर 20 मार्च रविवार को सुबह 10 बजकर छह मिनट पर समाप्त होगी. उदय तिथि के अनुसार यह पर्व 20 मार्च रविवार को मनाया जाएगा।

होली भाई दूज का महत्व

भाई दूज का पर्व भाई की सलामती के लिए मनाया जाता है। यह दिन भाई और बहन के बीच के बंधन को मजबूत करता है। इस दिन बहनें अपने भाई के जीवन को संकटों से बचाने के लिए व्रत रखकर गणपति और नारायण की पूजा करती हैं और उनकी लंबी उम्र की कामना करती हैं। इसके बाद भाई का तिलक करके व्रत तोड़ती हैं। तिलक के एवज में भाई अपनी बहन को शगुन के रूप में उपहार भी देता है। इसके साथ ही वह बहन को हर हाल में साथ देने और उसकी रक्षा करने का वादा करता है।

See also  PM Kisan Sanman Nidhi Yojana money back

ऐसे करें तिलक

होली के दिन भाई दूज के दिन प्रात:काल स्नान आदि से निवृत्त होकर स्वच्छ वस्त्र धारण कर भगवान गणेश और भगवान विष्णु की विधिवत पूजा करें। भाई दूज की कहानी पढ़ें और उनसे अपने भाई की लंबी उम्र की प्रार्थना करें। इसके बाद भाई को तिलक करने के लिए आरती की थाली सजाएं। थाली में रोली, अक्षत, दीपक, मिठाई, सुपारी या सूखे गोले आदि रखें. इसके बाद चौका लगाएं और उस पर थपथपाएं और भाई को बिठाएं। उनका तिलक करें, अक्षत लगाएं, आरती करें और उन्हें मिठाई खिलाएं। इसके बाद भाई को सुपारी या गोला दें। इसके बाद भाई बहन के पैर छूकर आशीर्वाद लेते हैं और उसकी क्षमता के अनुसार उपहार देकर उसका मुंह मीठा करते हैं। इस दिन अपने भाई को खाना खाकर ही घर से विदा करें।

 

Also Read:

Dubbed hollywood movies in hindi free download कैसे करे?

 

1 thought on “Holi bhai dooj 2022 : होली की दूज कब है 2022? होली की दूज क्या तारीख की है?”

Leave a Comment

x